Ticker

6/recent/ticker-posts

पश्चिम प्रदेश गठन की लड़ाई में मैं आपके साथ हुं - सांसद हाजी फजलुर्रहमान

 क्रांति को कुचलने जाने पर क्रांति सिर पर कफन बांध लेती है •• रिटायर्ड कर्नल सुधीर,अब हाईकोर्ट बैंच नहीं पूरा प्रदेश चाहिए •• एडवोकेट सत्य पाल यादव,  उत्तराखंड का गठन किया फिर पश्चिम प्रदेश गठन में आपत्ति क्यों? •• वीरपाल जाट, हमारी लड़ाई मोदी सरकार से नहीं है हमारी लड़ाई अपनी पूर्ण आज़ादी और वजूद की लड़ाई है••विरेन्द्र चौधरी 

विरेन्द्र चौधरी 

बिजनौर। मां शाकम्बरी देवी मंदिर पहुंचे पश्चिम प्रदेश निर्माण मोर्चा के पदाधिकारियों ने माता के चरणों में आंदोलन को समर्पित करते हुए कहा जब तक पश्चिम प्रदेश निर्माण नहीं हो जाता,तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

मां शाकम्बरी देवी मंदिर से पश्चिम प्रदेश निर्माण यात्रा शुभारंभ होकर सहारनपुर सांसद हाजी फजलुर्रहमान के निवास पर पहुंची और उनसे समर्थन के लिए ज्ञापन सौंपा। सांसद हाजी फजलुर्रहमान ने कहा वे पश्चिम प्रदेश विभाजन की मांग संसद में उठा चुके हैं और आगे भी उठाते रहेंगे। क्योंकि ये लड़ाई क्षेत्र के विकास की लड़ाई है।

इस अवसर पर मोर्चा के केन्द्रीय अध्यक्ष एडवोकेट सत्य पाल यादव ने कहा पिछले 40 सालों से वकील हाईकोर्ट बैंच की मांग कर रहे है, ताकि यहां की जनता को न्याय सुलभ और तत्काल मिले। लेकिन पूरब की राजनीतिक हठधर्मिता के कारण हमें बैंच नहीं दी गई। लेकिन अब हमें बैंच नहीं अपना प्रदेश चाहिए। बैंच अपने आप आ जायेगी।

मोर्चा के केन्द्रीय महासचिव रिटायर्ड कर्नल सुधीर कुमार ने कहा क्रांति जब चलने लगती है तो उसे कोई रोक नही सकता। बाहुबल से थोडी देर के लिए कोई उसे रोक भी दे, ज्यादा देर क्रांति को थामना असम्भव है। क्रांति को कुचलने की कोशिश की जाती है तो क्रांति सिर पर कफन बांध लेती है। मां शाकम्बरी के चरणों से चली क्रांति अपना हक लेकर ही शांत होगी।

विश्व जाट एकता महासभा के अध्यक्ष वीरपाल जाट ने कहा पश्चिम प्रदेश गठन की लड़ाई कोई मुश्किल लड़ाई नहीं है। पश्चिम के किसानों ने पहले भी सरकार से जंग जीती है, पश्चिम प्रदेश की जंग भी हम ही जीतेंगे। लेकिन हम सरकार से बेवजह टकराव नहीं चाहते। उन्होंने कहा जो हमारा हक है सरकार हमें दे दे। पहले भी इसी सरकार ने इसी उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड का गठन किया था। फिर पश्चिम प्रदेश गठन में आपत्ति क्यों?

विरेन्द्र चौधरी पत्रकार ने कहा हमारी लड़ाई मोदी सरकार से नहीं है, हमारी लड़ाई पूर्ण आज़ादी और पूर्ण वजूद की लड़ाई है। अधूरी आजादी अधूरे वजूद से बेहतर है पश्चिम प्रदेश निर्माण के लिए अपनी शहादत दे देना। ताकि आने वाली पीढ़ियां अपनी आजादी, अपने फैसलों और अपने वजूद के साथ जी सके।

पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भगत सिंह वर्मा ने कहा पश्चिम प्रदेश बनने के बाद चिकित्सा, शिक्षा व्यवस्था सुधरेगी। प्रति व्यक्ति आय बढ़ेगी। किसानों की स्थिति सुधरेगी।जिससे सामाजिक विकास होगा।

इस अवसर पर सहारनपुर से प्रधान ऋषि पाल,अनुज शर्मा, अतुल शर्मा, शिक्षक संघ नेता अशोक मलिक, साबिर अली खान,पवन रघुवंशी,सुमित वर्मा,संदीप सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments