Ticker

6/recent/ticker-posts

अटल बिहारी वाजपेई को भारत रत्न दिया जा सकता है तो किसानों मजदूरों के भगवान स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न क्यों नहीं - डॉ अशोक मलिक

 अटल बिहारी वाजपेई को भारत रत्न दिया जा सकता है तो किसानों मजदूरों के भगवान स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न क्यों नहीं - डॉ अशोक मलिक  

विरेन्द्र चौधरी/वीरेंद्र भारद्वाज 

 सहारनपुर। चौधरी चरण सिंह चौक पर देश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री किसानों मजदूरों मजलूमों के मसीहा स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह का जन्मदिन विभिन्न सामाजिक सरसों के साथ-साथ राष्ट्रीय जाट महासभा भारतीय किसान यूनियन वर्मा ने संयुक्त रूप से चौधरी चरण सिंह की मूर्ति पर माला अर्पण करने के उपरांत लेबर कॉलोनी स्थित बीडीएम पब्लिक स्कूल में किसान दिवस के रूप में जयंती मनाई गई

राष्ट्रीय जाट महासभा व भारतीय किसान यूनियन वर्मा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ अशोक मलिक ने कहा कि स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह जी गरीबों दलितों मजदूरों मजलूमों किसानों  की आवाज बनकर देश की सर्वोच्च कुर्सी पर विराजमान होकर यह दिखा दिया की अपने संघर्ष के बलबूते जमीन से जुड़ा हुआ गरीब किसान मजदूर परिवार का व्यक्ति भी देश का प्रधानमंत्री बन सकता है चौधरी साहब ने सदैव ईमानदारी और सादगी के प्रतीक रहे हैं। 

श्री मलिक ने कहा भाजपा सरकार ने अटल बिहारी वाजपेई को भारत रत्न देकर यह साबित कर दिया है कि जिसकी सरकार होती है उसी को भारत रत्न दिया जाता है जबकि विश्व हिंदू परिषद का देश की आजादी में कोई योगदान नहीं रहा अंग्रेजों की तरह फूट डालो राज करो की तरह भारतीय जनता पार्टी आज सरकार चला रही है आज सरकार ने किसानों व जाटों के बलबूते दोबारा से सत्ता में आने के लिए लालायित हैं जबकि चौधरी चरण सिंह ने देश की आजादी से लेकर देश की अर्थव्यवस्था को दबे कुचले गरीब किसान मजदूर को उनका हक दिलाकर किसानों के मसीहा के रूप में अपने आप को स्थापित किया था किसानों के भगवान को भारत रत्न से नवाजा जाना आज की आवश्यकता है वरना किसान और मजदूर अपने आप को ठगा महसूस कर रहे है वरना स्वर्गीय चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिलाने के लिए किसानों मजदूरों की सरकार बनानी होगी तभी किसानों के भगवान को भारत रत्न दिया जा सकता है अन्नदाता किसानों मजदूरों के मसीहा मसीह भगवान स्वरूप स्वर्ग चौधरी चरण सिंह एक व्यक्ति नहीं बल्कि एक संस्था का नाम था जिसके हर छोर से भारतीय संस्कृति और सभ्यता के साथ-साथ भारतीय होने की सुगंध आती है।

 जाट समाज के नेता चौधरी मुकेश व चौधरी सतीश एडवोकेट ने कहा आज चौधरी चरण सिंह के नाम पर सभी राजनीतिक पार्टियों अपनी-अपनी राजनीतिक रोटियां शेक कर रही है लेकिन यह दुर्भाग्य है कि ऐसे व्यक्तित्व को भारत रत्न से सम्मानित होना चाहिए था लेकिन यह दुर्भाग्य है देश के अन्नदाता किसान के बेटे को भारत रत्न देने से वर्तमान पार्टी सरकार गुरेज कर रही है।

कार्यक्रम को चौधरी सहदेव सिंह युवा किसान नेता अतुल फंदपुरी व्यापारी नेता बी एस मालिक जाट सभा के युवा नेता अरविंद मलिक सत्येंद्र सोलंकी चौधरी जतिंदर पवार यतेंद्र पवार संबोधित किया।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से धर्मेंद्र कुमार हरेंद्र कुमार नाथू सिंह ठेकेदार सुधीर चौधरी मीनू चौधरी प्रवीण चौधरी केपी सिंह गययूर आलम अमजद अली एडवोकेट मोहम्मद अहमद दिनेश रुपड़ी श्रीमती रेखा धीमान रेखा चौधरी श्रीमती सुषमा कुमारी नीरज चौधरी प्रिया चौधरी चौधरी सुनील चौधरी संजय कुमार आदि मुख्यरूप से शामिल रहे।

Post a Comment

0 Comments