Ticker

6/recent/ticker-posts

देश की आजादी के बावजूद हम आज भी गुलाम, क्योंकि राजनीतिक सामाजिक न्यायिक आर्थिक तौर पर हम पिछड़े हुए हैं - हरीश चंद भाटी

मां शाकम्बरी देवी मंदिर से हुआ पश्चिम प्रदेश निर्माण यात्रा का शुभारंभ •• मिला जबरदस्त समर्थन जनसंपर्क में लोगो ने कहा हम आंदोलन के साथ •• पूर्व स्टेट मंत्री हरीश चंद भाटी ने कहा हम आज भी गुलाम

विरेन्द्र चौधरी 

 सहारनपुर।आज सुबह शाकम्बरी देवी मंदिर से पश्चिम प्रदेश निर्माण यात्रा का आयोजन किया गया। जिसे पूर्व प्रदेश मंत्री हरीश चंद भाटी, चौधरी प्रीतम सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया, इससे पूर्व वहां एक बैठक का आयोजन किया गया। निर्माण यात्रा का नेतृत्व रिटायर्ड कर्नल सुधीर कुमार व पूर्व अध्यक्ष बार रूम गाजियाबाद व विरेन्द्र चौधरी ने किया।

इस अवसर पर पूर्व मंत्री हरीश चंद भाटी ने पृथक प्रदेश के लाभ गिनवाते हुए कहा आज हम सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक रूप से पिछड़े हैं तो उसका बड़ा कारण प्रदेश का बड़ा होना है।भाटी ने कहा हम आज भी गुलाम है क्योंकि हम राजनीतिक, सामाजिक, न्यायिक, आर्थिक तौर पर पिछड़े हुए हैं। उन्होंने बताया कि यात्रा में शामिल होने से पहले वे सहारनपुर गुर्जर समाज के गणमान्य व्यक्तियों से संपर्क कर उन्हें पश्चिम प्रदेश आंदोलन में सक्रिय होने के लिए आग्रह करके आये है।

यात्रा को संबोधित करते हुए वयोवृद्ध नेता चौधरी प्रीतम सिंह ने प्रदेश पुनर्गठन का इतिहास बताते हुए कहा आप युवाओं को आंदोलन से जोड़े उन्हें बताया जाये कि पश्चिम प्रदेश बनने के बाद उन्हें क्या मिलेगा।

यात्रा को संबोधित करते हुए पश्चिम प्रदेश निर्माण मोर्चा के केन्द्रीय अध्यक्ष एडवोकेट सत्य पाल यादव ने कहा हमें न्याय के लिए 750 किमी प्रयागराज जाना पड़ता है,जिसके कारण पश्चिम के नागरिकों को सुलभ न्याय नहीं मिल पाता। हाईकोर्ट बैंच के लिए लाखो एडवोकेट पिछले 20 सालो से आंदोलन कर रहे हैं। लेकिन पूरब की हठधर्मिता के चलते आज तक पश्चिम को हाईकोर्ट बैंच नहीं दी गई। पश्चिम प्रदेश का गठन होगा तो यहां के नागरिकों को सुलभ न्याय मिलेगा।

पी पी एन एम के केंद्रीय महासचिव रिटायर्ड कर्नल सुधीर कुमार ने अपने संबोधन में कहा पश्चिम प्रदेश गठन की लड़ाई युवाओं के भविष्य की लड़ाई है क्योंकि पश्चिम प्रदेश का गठन होगा तो लाखो सरकारी नौकरी, युनिवर्सिटी पश्चिम प्रदेश में आयेगी,जो युवाओं के भविष्य को तय करेगी। उन्होंने युवाओं से अपील की कि वे अधिक से अधिक संख्या में आंदोलन में सक्रिय भूमिका निभाएं।

पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भगत सिंह वर्मा ने कहा पश्चिम प्रदेश के गठन होने से किसानों को बड़ा फायदा होगा, किसानों के सामाजिक और आर्थिक विकास के दरवाज़े खुलेंगे।

मुक्ति मोर्चा व शिक्षक नेता  अशोक मलिक ने कहा प्रदेश गठन के बाद यहां सरकारी यूनिवर्सिटीज, मेडिकल कॉलेज,एम्स, हाईकोर्ट सहित सभी सरकारी मुख्यालय यहां होंगे जिससे युवाओं सहित सभी वर्गों का विकास होगा।

विश्व जाट एकता महासभा के अध्यक्ष वीरपाल जाट ने अपने संबोधन में कहा कि पश्चिम प्रदेश निर्माण आंदोलन में वे अग्रणी भूमिका निभायेंगे। उन्होंने कहा मां शाकम्बरी देवी मंदिर के सामने खड़े होकर वादा करता हुं कि प्रदेश निर्माण के बाद पश्चिम प्रदेश का सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक विकास होगा और यहां का हर नागरिक सम्पन्न बनेगा।

पश्चिम प्रदेश निर्माण मोर्चा के मंडल अध्यक्ष साबिर अली खान ने कहा पृथक पश्चिम प्रदेश के गठन के बाद जो लगभग 72 प्रतिशत राजस्व पश्चिम प्रदेश दे रहा है, पश्चिम प्रदेश पर ही खर्च होगा। जिससे पश्चिम प्रदेश के नागरिकों के विकास को गति मिलेगी। 

पश्चिम प्रदेश मुक्ति मोर्चा के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विरेन्द्र चौधरी ने कहा पश्चिम प्रदेश निर्माण के बाद हमारा प्रदेश वर्ल्ड का सबसे अधिक आर्थिक मजबूत प्रदेश बनेगा,जो हार्ट ऑफ हिंदुस्तान होगा।

पर्वतारोही रिजवाना खान हापुड़ ने कहा कि पश्चिम प्रदेश निर्माण के बाद खिलाड़ियों को खेलने और नौकरियों में अवसर मिलगे। उन्होंने कहा इस लड़ाई में वो आखिरी सांस तक साथ रहेगी।

 इस अवसर पर अनुज शर्मा, अतुल शर्मा, अरूण टोनी,आदीत गुप्ता, ऋषि गुर्जर प्रधान,शाहजेब खान, जितेन्द्र सहरावत,नीरज कपिल, पुनीत कुमार, बलबीर सिंह,विजय पाल, राजेश कुमार,निशु, अनिल चौधरी, पुनित कुमार, मनोज कुमार, विपिन कुमार, पंकज चौधरी सहित सैकड़ों लोग शामिल रहे और आंदोलन को तेज करने का वादा किया।

Post a Comment

0 Comments