Ticker

6/recent/ticker-posts

आरटीई में आवेदन हेतु समय सारणी जारी••••अलाभित व दुर्बल वर्गों के बच्चों को पूर्व प्राथमिक कक्षा में 25 प्रतिशत तक प्रवेश दिये जाने के लिए समय सारणी तय -- जिलाधिकारी

 आरटीई में आवेदन हेतु समय सारणी जारी••••अलाभित व दुर्बल वर्गों के बच्चों को पूर्व प्राथमिक कक्षा में 25 प्रतिशत तक प्रवेश दिये जाने के लिए समय सारणी तय -- जिलाधिकारी

विरेन्द्र चौधरी 

सहारनपुर। जिलाधिकारी डॉ0 दिनेश चन्द्र के निर्देशानुसार निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के अन्तर्गत अलाभित समूह एवं दुर्बल वर्ग के बच्चों को कक्षा-01 पूर्व प्राथमिक कक्षा में गैर सहायतित मान्यता प्राप्त विद्यालयों में 25 प्रतिशत सीमा तक प्रवेश दिये जाने के संबंध में समय सारणी निर्गत की गयी है।
समय सारणी के अनुसार प्रथम चरण में 20 जनवरी से 18 फरवरी तक आवेदन होंगे एवं 26 फरवरी 2024 को लाटरी निकाली जाएगी। द्वितीय चरण में 01 मार्च से 30 मार्च तक आवेदन होंगे तथा 08 अप्रैल को लाटरी निकाली जाएगी। तृतीय चरण में 15 अपै्रल से 08 मई तक आवेदन एवं 16 मई को लाटरी निकाली जाएगी। चतुर्थ चरण में 01 जून से 20 जून 2024 तक आवेदन होंगे एवं 28 जून को लाटरी निकालने की तिथि निर्धारित की गयी है।
अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति, सामाजिक और शैक्षिक रूप से पिछडे वर्ग, निःशक्त बच्चे, एचआईवी अथवा कैंसर पीडित अभिभावक के बच्चे, निराश्रित, बेघर बच्चे, माता-पिता या संरक्षक गरीबी रेखा के नीचे, दिव्यांग, वृद्धावस्था एवं विधवा पेंशन जिनकी अधिकतम वार्षिक आय 01 लाख रूपये हो आवेदन कर सकते है। आवेदन हेतु निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, वोटर कार्ड, राशन कार्ड, ड्राइविंग लाईसेंस, बैंक पासबुक में से कोई एक दस्तावेज, जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, बीपीएल कार्ड, पेंशन पासबुक, दिव्यांग प्रमाण पत्र एवं बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र अनिवार्य है। 01 अपै्रल 2024 को बच्चे की आयु कम से कम 03 वर्ष तथा अधिकतम 06 वर्ष होनी अनिवार्य है।
इच्छुक अभिभावक शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में वेबासइट rte25.upsdc.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। वेबसाइट पर प्रवेश प्रक्रिया से संबंधित समस्त शासनादेश एवं नियमावली उपलब्ध है। यदि मानक के अन्तर्गत आने वाले किसी विद्यालय का रजिस्ट्रेशन न होने के कारण कोई बच्चा प्रवेश से वंचित रहता है तो इसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी संबंधित खण्ड शिक्षा अधिकारी एवं विद्यालय की होगी।

Post a Comment

0 Comments