Ticker

6/recent/ticker-posts

जगबीर सिंह हत्याकाण्ड मे मध्यस्ता कर टिकैत परिवार व पूर्व मन्त्री योगराज सिंह का आपसी फैसला सराहनीय कार्य -- डॉक्टर सतेन्द्र सिंह

 हम रहें किसी पार्टी में लेकिन सामाजिक सौहार्द बनाए रखे••चौधरी जगबीर सिंह हत्याकाण्ड मे मध्यस्ता कर टिकैत परिवार व पूर्व मन्त्री योगराज सिंह का आपसी फैसला सराहनीय कार्य -- डॉक्टर सतेन्द्र सिंह

विरेन्द्र चौधरी 

 मुजफ्फरनगर।राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्य्क्ष चौधरी जयनत सिंह जी के प्रयास से गांव करवाडा मे समाज के जिम्मेदार लोगो व खाप चौधरियों  जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए चौधरी जगबीर सिंह हत्याकाण्ड मे मध्यस्ता कर टिकैत परिवार व पूर्व मन्त्री योगराज सिंह का आपसी फैसला करा सराहनीय कार्य किया है ।इससे केवल जाट समाज ही नही दूसरी जाति व धर्म के लोगो के बीच अच्छा संदेश गया है।

डॉक्टर सतेन्द्र सिंह राष्ट्रीय अध्यक्ष पश्चिमांचल निर्माण पार्टी की ओर से दोनों परिवारों के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं। फैसले को मूर्त रूप देने के लिए चौधरी योगराज सिंह का सिसौली जाकर बालियान खाप के चौधरी नरेश टिकैत जी का आशीर्वाद लेना व उसके बाद चौधरी राकेश टिकैत जी व युवा चौधरी गौरव टिकैत जी का चौधरी योगराज सिंह जी के आवास पर जाकर समाज के जिम्मेदार लोगो की उपस्थिति मे गले मिलकर एक दूसरे को मिठाई खिलाना दोनो परिवारो के अच्छे चरित्र को दर्शाता है।समाज मे एकता व भाईचारा व बेटे बेटियों को संस्कारवान बनाने के लिए खाप पंचायतो को सतत क्रियाशील रहना अतिआवश्यक है।

उन्होंने कहा आज पैसा कमाने होड मे ईन्सान ईन्सानियत भूलता जा रहा है बच्चों पर ध्यान नही दिया जा रहा बच्चे पाश्चातिय शैली को अपना रहें युवा व युवतियों मे नशे का प्रचलन बढ रहा है।राजनैतिक महत्व कांक्षा के चलते लोग आपस मे रंजिश रखने लगे हैं ।मेरा व्यक्तिगत सुझाव है हम किसी भी पार्टी मे रहें लेकिन आपसी सौहार्द कायम रखे ताकि सामाजिक सन्तुलन न बिगडने पाये। सरकारे तो आति जाती रहती है।हमे अपने  प्रत्येक गांव शहर व मौहल्लो मे सभी धर्म व जाति के लोगो की समन्वय समीति बनानी चाहिए।अपने मताधिकार का प्रयोग भी पार्टी नही योग्य व स्वच्छ छवि वाले प्रत्याशी के पक्ष मे करना चाहिए।

गांव मे  समिति का गठन कर आपसी सहयोग से पुस्तकालय,खेल के मैदान का निर्माण कराना  चाहिए ,नशा करने व बीडी सिगरेट से होने वाले नुकसान का प्रचार करना चाहिए समाज सेवा से बढकर पुण्य का कार्य ओर कोई नही हो सकता।शादी मे दहेज प्रथा व मृत्यु भोज पर रोक लगनी चाहिए। बेरोजगार युवको को अपने गांव मे ही रोजगार जैसे सरसो का तेल,,शुद्ध देशी घी ,फ्लोर मिल,मधुमक्खी पालन ,इन आर्गेनिक सब्जी व फलो,मिर्च मसालो का स्टार्टप शुरू करने के लिए प्रेरित करना चाहिए। गाव॔ मे आपसी झगडो को आपस मे मिल बैठकर सुलझाना चाहिए।


               


.


.

Post a Comment

0 Comments