Ticker

6/recent/ticker-posts

जो कायर और भयातुर है,वो सुलह के पापड़ बेलते है, जो सच्चे बीर बहादुर है सर देके सर से खेलते है••••भानू सहाय

  पुलिस को आगे करके बुन्देली योद्धाओं पर लिखाये गये मुकद्दमे के परिणाम होंगे गम्भीर -- जो कायर और भयातुर है,वो सुलह के पापड़ बेलते है, जो सच्चे बीर बहादुर है सर देके सर से खेलते है••••भानू सहाय 

विरेन्द्र चौधरी 

झांसी। उत्तर प्रदेश पुनर्गठन को लेकर पूरे प्रदेश में आक्रोश है,अब पश्चिम उत्तर प्रदेश व बुंदेलखंड में आंदोलन तेज होता नजर आ रहा है,लोग सड़कों पर तो उतर ही रहे हैं, वहीं राजनेताओं के पुतले फुंककर अपना आक्रोश जाहिर कर रहे हैं।

झांसी में भानू सहाय ने कहा बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी , तत्तकालीन ग्रहमंत्री राजनाथ सिंह ,एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमाभारती ने हम बुन्देलियो से वादा किया था कि तीन साल के भीतर बुन्देलखण्ड राज्य बनवा दिया जायेगा ।आज दिनांक तक केन्द्र सरकार ने किसी भी प्रकार कार्य प्रारम्भ नहीं किया गया, जिससे कुपित होकर राजनाथसिंह के झाँसी आगमन पर बुन्देलखण्ड निर्माण मोर्चा द्वारा अखण्ड बुन्देलखण्ड में विरोध प्रदर्शन किया गया एवं पुतले फूँके गये। राजनाथ सिंह के पुतले जलाए जाने पर पुलिस द्वारा रघुराज शर्मा , हमीदा अंजुम ,उत्कर्ष साहू ,प्रदीप नाथ झा एवं शिवमंगल सिंह (गोलू ठाकुर) इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चार्जशीट दाखिल कर दी। उक्त पाँचो बुन्देली योद्धाओं की जमानत अधिवक्ता राजेंद्र शर्मा एवं अधिवक्ता अनुराग मिश्रा ने कराई।

       जमानत उपरान्त मोर्चा अध्यक्ष भानू सहाय,कुँअर बहादुर आदिम ,पंकज रावत , वरूण अग्रवाल ,प्रभूदयाल कुशवाहा , हनीफ खान , नरेश वर्मा ,ब्रजेश राय ,शंकर रायकवार ,बंटी दुवे , नफीस कुरैशी ,इशरार अहमद , संजीव साहू ,कलाम कुरैशी आदि उपस्थित बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधियों एवं पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारे बाजी की एवं सामूहिक रूप से संकल्प लिया गया कि जितने मुकदमे और लिखवाना चाहते हो लिखवा दो।जो कायर और भयातुर है,वो सुलह के पापड़ बेलते है, जो सच्चे बीर बहादुर है सर देके सर से खेलते है। बुन्देली योद्धा ना रूके है ना रूकेगे।   

आज़ादी लेकर रहेंगे,आप भी आज़ादी के आंदोलन में शामिल हो, विरेन्द्र चौधरी पत्रकार 8057081945

                    

Post a Comment

0 Comments