Ticker

6/recent/ticker-posts

सुधा सिंह के सपने तो पूरे होंगे ही, आकांक्षा का प्रयास शिक्षा जगत में होगा मील का पत्थर, बेटियां भरेंगी उड़ान

सुधा सिंह के सपने तो पूरे होंगे ही, आकांक्षा का प्रयास शिक्षा जगत में होगा मील का पत्थर, बेटियां भरेंगी उड़ान 

विरेन्द्र चौधरी
मुरादनगर, गाजियाबाद। जब आपकी आंखों में सपने हो, आपने दिये हो परिवार को संस्कार,तो आप रहे या ना रहे, लेकिन सपने तो पूरे होंगे ही। ऐसा ही एक सपना देखा था मुरादनगर की सुधा सिंह ने,सुधा सिंह का सपना था उनके क्षेत्र की बेटियां पढ़ें और आगे बढ़े। आज वो हमारे बीच नहीं हैं, उनके सपने आज भी जिंदा है।उनके सपनों को पूरा करने में लगी है उनकी बेटी आकांशा सिंह।
आकांशा सिंह यूनिक ग्रुप ऑफ कालेज की चैयरमैन है और अपनी मां के सपनों को पूरा करने व उनके मिशन को आगे बढ़ाने में लगी है। इसके लिए उन्होंने कालेज परिसर में ही PLAY - WAY TO 11th तक क्लासेज की शुरुआत कर दी है,जो इस वर्ष चालू हो जाएगी।
सुधा सिंह के मिशन को पूरा करने के लिए आकांक्षा सिंह ने तो स्कीम बनाई है, ताकि किसी भी परिवार की बेटी अशिक्षित ना रहने पाए। पहली स्कीम है बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ दूसरी है कृष्ण सुदामा स्कीम।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्कीम के तहत,एक परिवार में तीन बेटियां हैं तो प्रथम यानि बड़ी बेटी की पूरी फीस लगेगी।बीच वाली बेटी की आधी फीस व तीसरी बेटी यानि सबसे छोटी की पूरी फीस माफ रहेगी। दूसरी स्कीम के तहत किसी परिवार में अगर दो बेटियां हैं तो प्रथम यानि बड़ी बेटी की तो पूरी फीस लगेगी, दूसरी बेटी की पूरी फीस माफ रहेगी। कमाल की स्कीम यह है अगर किसी परिवार में एक ही बेटी है तो प्ले ग्रुप से लेकर कक्षा 08 तक पूरी फीस माफ,कक्षा 09 से कक्षा 12 तक हाफ फीस ही ली जायेगी। इससे भी कमाल की स्कीम है कि अगर किसी परिवार में एक बेटी है और एक बेटा,तो बेटी की फीस माफ रहेगी।एक परिवार में अगर तीन बच्चे हैं तो यानि दो बेटे एक बेटी है तो भी बेटी की फीस माफ रहेगी।
कृष्ण सुदामा स्कीम ऐसे छात्र और छात्राओं को एकदम मुफ्त प्रवेश दिया जाएगा जिनके माता-पिता का स्वर्गवास हो गया है,बस इसके लिए उन्हें माता-पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र दिखाना होगा। जो छात्र 85% के ऊपर अंक प्राप्त करते है तो तो छात्रों को स्कॉलरशिप प्रदान कराया जाएगा। आकांशा सिंह के अनुसार 75% से ऊपर अंक प्राप्त करने वाले छात्रों की 50% फीस माफ की जाती है।
आकांक्षा सिंह का मानना है कि इस तरह की स्कीमें चलाने से उन्हें उम्मीद है कि क्षेत्र में बेटियों को शिक्षित करने में प्रोत्साहन मिलेगा, क्षेत्र की बेटियां शिक्षित बनेगी।
राष्ट्रीय खेल मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व अंर्तराष्ट्रीय पहलवान विनोद पहलवान व पश्चिम प्रदेश आंदोलन के प्रमुख प्रहरी विरेन्द्र चौधरी पत्रकार ने आकांक्षा सिंह का यह प्रयास जहां बेटियों को शिक्षित करने के लिए प्रेरित होंगे वहीं उनका यह प्रयास शिक्षा जगत में मील का पत्थर साबित होगा और क्षेत्र की बेटियां शिक्षा जगत में उड़ान भी भरेंगी।
होम लोन पर्सनल लोन बिजनेस लोन लैप लोन के लिए संपर्क करें कांटेक्ट नंबर 8057081945

Post a Comment

0 Comments