Ticker

6/recent/ticker-posts

भाजपा सरकार ने किया सीएए पर नोटिफिकेशन जारी,देश में सीएए कानून हो गया लागू

 


विरेन्द्र चौधरी/वीरेंद्र भारद्वाज
दिल्ली। आज भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय सरकार ने नागरिकता संशोधन एक्ट का नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। नोटिफिकेशन जारी होते ही देश में नागरिकता संशोधन एक्ट लागू हो गया है। आपको बताना जरूरी है कि इस कानून के तहत किसे किसे नागरिकता मिलेगी।
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने अपने X पर लिखते हुए जानकारी दी है कि नागरिकता संशोधन नियम के तहत ३१ दिसंबर २०१४ से पहले जो लोग बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान से भारत आए हिंदू,सिख, बौद्ध, पारसी और ईसाई समुदाय के लोग भारत आए हैं,वो भारतीय नागरिकता के अधिकारी होंगे।
                     हाइलाइट्स 
  भाजपा सरकार ने किया सीएए पर नोटिफिकेशन जारी,देश में सीएए कानून हो गया लागू
 • २०१४ से पहले भारत आए हिंदू सिख पारसी बौद्ध लोगों को मिल जायेगी भारत की नागरिकता
 • भाजपा ने कहा था लोकसभा चुनाव से पहले करेगी सीएए कानून लागू, भाजपा ने कर दिया 
•   दिव्य शक्ति अखाड़ा के महामंडलेश्वर संत कमल किशोर ने दिया प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गृहमंत्री अमित शाह को साधू वाद 
आपको बता दे कि केंद्र की मोदी सरकार ने नागरिकता संशोधन एक्ट सीएए २०२४ की अधिसूचना जारी कर दी है। जारी अधिसूचना के अंतर्गत धार्मिक उत्पीड़न के कारण पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से पलायन कर भारत आए लोगों को भारतीय नागरिकता दी जाएगी। अमित शाह ने अपने X एकाउंट पर लिखा कि इस अधिसूचना के जरिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने एक और प्रतिबद्धता पूरी की है। इन देशों में रहने वाले सिखों, बौद्धो, पारसियों और जैनियों को संविधान निर्माताओं की ओर से किए गए वादे को पूरा किया है।सनद रहे अभी हाल में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ऐलान किया था कि उनकी सरकार लोकसभा चुनाव से पहले ही सीएए कानून को लागू करेगी।

दिव्य शक्ति अखाड़ा के महामंडलेश्वर संत कमल किशोर ने सीएए कानून लागू होने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह को बधाई देते हुए कहा कि सन् 1947 में जो भारत का बंटवारा हुआ था,वो मुस्लिमो की चाहत के अनुसार हुआ था, मुसलमान चाहते थे बंटवारा धार्मिक आधार पर हो। बंटवारे के बाद जो हिंदू,सिख, पारसी, बौद्ध लोग वहां रह गये थे,उनकी जनसंख्या 28% थी। अफगानिस्तान में, पाकिस्तान में इन लोगों पर जुर्म और अत्याचार हुए,इनकी जनसंख्या घटकर मात्र 1% रह गई। अत्याचार से परेशान लोग आखिर जाते कहां, उन्हें भारत आना ही था।किसी भी देश में रहने के लिए वहां की नागरिकता होनी जरूरी है। पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश से आए पीड़ित, शोषित लोगों को सीएए कानून लागू होने से भारत की नागरिकता मिल जायेगी। इस महान कार्य के लिए महामंडलेश्वर संत कमल किशोर ने प्रधानमंत्री सहित पूरी भाजपा को साधू वाद दिया।
सीएए तो लागू कर दिया अब उत्तर प्रदेश पुनर्गठन भी कर दो मोदी जी, आंदोलन से जुड़े स्वराज की आवाज उठाओ, विरेन्द्र चौधरी पत्रकार 8057081945

Post a Comment

0 Comments