Ticker

6/recent/ticker-posts

अर्जी हम बुंदेलियो की एवं मर्जी बुंदेलखंड के निवासियों की - भानू सहाय

विरेन्द्र चौधरी

 UP NEWS.बुंदेलखंड राज्य निर्माण तीन साल के भीतर करवा दिए जाने का वचन हम  बूंदेलियो से रामराजा सरकार ओरछा धाम को साक्षी मान के किया गया था। 
        बुंदेलखंड निर्माण मोर्चा के योद्धाओं ने न्यायालय परिसर निवाङी पर "अर्जी हम बुंदेलियो की एवं मर्जी बुंदेलखंड के निवासियों की" कार्यक्रम के अन्तर्गत पर्चे बांटने व लोगों की कलाई पर राम बंधन बांधने का कार्य प्रारम्भ किया गया। 
          कार्यक्रम के दौरान मोर्चा अध्यक्ष भानू सहाय ने कहा कि हमीरपुर महोबा के भाजपा सांसद पुष्पेन्द्र सिंह चंदेल जिन्होंने लोकसभा में राज्य निर्माण की मांग आठ बार उठाई परंतु बुंदेलखंड क्षेत्र के शेष आठों सांसदों ने लोकसभा में राज्य निर्माण का समर्थन नहीं कर मौन धारण किये रखा जो दर्शाता है कि ये आठों सांसद बुंदेलखंड राज्य के विरोधी है। 
         बुंदेलखंड निर्माण मोर्चा द्वारा इन आठों सांसदों के "सोए हुए जमीर को जगाने के लिए उन्हें उनका फर्ज याद दिलाने के लिए" अनेक बार पुतला जलाकर विरोध किया एवं इनकी सांसदी का पिंड दान किया फिर भी इन्होंने स्वार्थ के वशीभूत होकर (अपना मंत्री पद,सांसदी बचाने के लिए एवं पुनः टिकट के लालच में) बुंदेलखंड राज्य की मांग लोक सभा में नहीं उठाई यह दर्शाता है कि ये पद लोलुप है पृथक राज्य के विरोधी है। 
            राम राजा सरकार के चरणों में राम बंधन पुजवाकर इन आठ सांसदों क्रमशः भानू वर्मा, वीरेंद्र खटीक, विष्णु दत्त शर्मा,  अनुराग शर्मा,  आर. के. पटेल, संध्या राय के निर्वाचन क्षेत्र मे लोगों की कलाई में राम बंधन बांधते हुए कहा जाएगा कि "तुमैं राम कौ कौल" इन आठों सांसदों को हरा दें जिससे आने वाले समय मे कोई भी जनप्रतिनिधि हम बुंदेलियों को फिर से न छल सके।
            ये छह सांसद अंध भक्त की भाँति जुमले बाजों का अनुसरण कर बुंदेलखंड राज्य का साथ नहीं दे रहे है इसलिए केवल चुनाव में बुंदेली बनने बाले नेताओं को चुनाव में हरा कर सबक सिखाना ही पड़ेगा। केंद्र सरकार के आय कर विभाग ने प्रभु राम राजा सरकार के मंदिर को छयालीस लाख का वसूली नोटिस भेजा है जो आज तक वापस नहीं लिया गया है,  यह बर्दास्त से बाहर है। 
               
       रामराजा सरकार के श्री चरणों में रामवन्धन पुजवाकर पर्चे बाँटने एवं राम बंधन बांधकर उक्त सांसदों को बोट ना देने की अपील की गयी। पर्चे बाँटने एवं  राम बंधन बांधने वालों में एडवोकेट अशोक सक्सैना , रघुराज शर्मा, अध्यक्ष जिलाधिवक्ता संघ नरेंद्र तिवारी, रज्जन दादा,  हरेंद्र परमार ,प्रदीप यादव, प्रदीप नाथ झा, कुँअर बहादुर आदिम, हनीफ खान पत्रकार, मनोज रायकवार, कारण पाल, सलमान सेठी, लक्ष्मी यादव घूघसी आदि उपस्थित रहे।
                     

Post a Comment

0 Comments